Barcode क्या है और इसे कैसे बनाया जाता है?

What is barcode

हममें से अधिकांश लोगों ने मॉल और दुकानों पर ख़रीददारी की होगी और कैश काउंटर पर भुगतान के समय आपने देखा होगा कि विक्रेता आपके द्वारा खरीदे गए उत्पादन के टैग को barcode reader के साथ स्कैन कर आपको बिल की राशि बताता हैं.

इस लेख में, आप समझेंगे कि barcode क्या है और इसे कैसे बनाया जाता है?

Barcode एक वर्गाकार या आयताकार image होती है जिसमें समानांतर काली रेखाओं और अलग-अलग चौड़ाई के सफेद रिक्त स्थानों की एक श्रृंखला होती है. संख्या और अन्य चिन्हों को दर्शाने के लिए barcode सीधी रेखाओं और रिक्त स्थानों का उपयोग करता है. Barcode जानकारी को एन्कोड करने का एक तरीका है जो एक मशीन ही पढ़ सकती है.

Barcode उत्पादन से संबंधित डेटा जैसे निर्माण की तारीख, समाप्ति की तारीख, निर्माता का नाम, उत्पत्ति का देश और मूल्य की मात्रा को संग्रहीत करता है. Barcode दो प्रकार के होते हैं 1D (1 dimensional or Linear) और 2D (2 dimensional or QR code).

1D Barcodes:

Linear barcode symbologies – विभिन्न प्रकार के उद्योगों में उपयोग के लिए कई प्रकार के one-dimensional barcodes हैं, जैसे कि Code128, Code 39 और UPC ये सब one-dimensional barcodes हैं जिसमें सीधी काली रेखाओं और सफेद रिक्त स्थान का एक क्रम होता है जो संख्याओं या अक्षरों के एक समूह को परिभाषित करते हैं, one-dimensional barcodes का उपयोग सामान्य उत्पादों जैसे किराने का सामान, Pen, और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों आदि में किया जाता है.

1D Barcodes की विशेषता:

  • यह 85 से कम अक्षर को धारण करता है (symbology specific character limit)
  • Linear barcodes (Linear scanner) को अधिकांश ग्राहकों के उपयोग करने के लिए बनाया गया है.
  • यह एक विस्तृत barcode बनाता है.
  • इसे फोन और टैबलेट कैमरा से स्कैन करना मुश्किल हो सकता है.

1D Barcode Types:

  • Code 128
  • Code 39
  • Interleaved 2 of 5
  • UPCa, UPCe EAN8, EAN13
  • Databar
  • USPS IMB

2D Barcodes:

Two-dimensional (2D) barcodes जैसे Data Matrix, PDF417, और QR Code ये सब squares, dots, hexagons, या किसी अन्य भुमितीय पैटर्न के हो सकते हैं. आकर में काफी छोटे होने के बावजूद ये linear barcode की तुलना में बहुत अधिक डेटा संचित करता हैं. 2D barcode सैकड़ों वर्णों/अक्षरों को संचित सकता है. आपने paytm ऐप में 2D barcode का उपयोग देखा होगा.

2D की विशेषता:

  • सैकड़ों वर्णों/अक्षरों को एनकोड / होल्ड करता है.
  • इसके लिए 2D barcode scanner की आवश्यकता होती है.
  • 1D की तुलना में एक छोटा barcode बनाता है.
  • फोन और टैबलेट के कैमरा से आसानी से स्कैन किया जा सकता है.

2D Barcode Types:

  • Data Matrix
  • QR Code
  • Aztec
  • PDF417
  • MaxiCode
अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी करे, हमारे अगले Post प्राप्त करने के लिए हमें करे और हमारा Facebook page करे, अपने सुझाव हमें Comments के माध्यम से दे.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *