चाय के 10 स्वास्थ्यवर्धक प्रकार (10 recuperative type of tea)

10 recuperative type of tea

1) आपको सिरदर्द है = अदरक चाय (Ginger Tea)

अदरक औषधीय गुणों से भरपूर जड़ी बूटी है जिसे विश्व भर में मसाले के रूप में प्रयोग किया जाता है. अदरक न केवल चाय के स्वाद को बढ़ता है, बल्कि सेहत के लिए भी बेहद लाभदायक होता है. खास तौर से सर्दियों में अदरक वाली चाय को काफी पसंद किया जाता है. अदरक की चाय पीने से माइग्रेन के दर्द में प्राकृतिक रूप से लाभ होता है. सर्दी के कारण होने वाले सिरदर्द के लिए अदरक की चाय एक बेहतरीन इलाज है.

2) मुंह की दुर्गंध से परेशानी = ब्लैक टी (Black Tea)

ब्लैक टी या काली चाय पीना मुंह की दुर्गंध दूर करने में बेहद फ़ायदेमंद होती है क्योंकि यह पॉलीफेनोल्स (polyphenols), शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होती है जो आपके दाँतों पर चिपचिपाहट होने से रोकते हैं. अध्ययनों में यह भी पाया गया है कि पॉलीफेनोल्स मुंह में बैक्टीरिया की वृद्धि को भी रोकते हैं.

3) घबराहट में = पैशन फ्लावर चाय (Passion Flower Tea)

पैशन फ्लावर जिसे पैसिफ्लोरा के नाम से भी जाना जाता है, यह एक बेल-फूल है जो अनिद्रा, चिंता, चमक और दर्द में मदद करता है. इस पौधे की 500 से अधिक प्रजातियाँ पायी जाती है. अध्ययनों से पता चलता है कि पैशन फ्लावर मस्तिष्क में गामा-एमिनोब्यूट्रिक एसिड (जीएबीए) को बढ़ता है. GABA एक प्राकृतिक रूप से पाया जाने वाला अमीनो एसिड है जो मस्तिष के केंद्रीय स्‍नायुतंत्र के गतिविधि को कम करता है. इससे आपको आराम मिलता है, मूड बेहतर बनता है, बेहतर नींद आती है और दर्द से राहत मिलती है. भारत में आप पैशन फ्लावर चाय पत्ती ई-कॉमर्स वेबसाइट पर आसानी से खरीद भी सकते हैं.

4) सूँघने से होने वाली एलर्जी मैं = नेटल टी (Nettle Tea)

नेटल एक तरह की झाड़ी वनस्पति है जो उत्तरी यूरोप और एशिया में पायी जाती है. इसका वैज्ञानिक नाम अर्टिका डियोका है. छींकने के लक्षणों से राहत के लिए नेटल टी फ़ायदेमंद होती है.

5) दोपहर के समय में = ग्रीन टी (Green Tea)

ग्रीन टी का उपयोग हजारों वर्षों से दवा के रूप में किया जाता रहा है, ग्रीन टी की उत्तपत्ती चीन में हुई लेकिन यह पूरे एशिया में व्यापक रूप से उपयोग की जाती रहा रही है. ग्रीन टी में एंटीऑक्सिडेंट और पोषक तत्व प्रचुर मात्रा में होते है जिसका शरीर पर शक्तिशाली प्रभाव पड़ता है. मस्तिष्क की कार्यक्षमता में सुधार और मोटापा कम करने के साथ इससे कैंसर का जोखिम भी कम हो जाता है.

6) असमंजस की स्थिति में = जिन्को टी (Ginkgo Tea) 

जिन्को बाइलोबा, जिसे आमतौर पर जिन्कगो या गिंगको के नाम से भी जाना जाता है, और मैदेन्हायर वृक्ष के रूप में भी जाना जाता है. जिन्को बिलोबा का अर्क पौधे की सूखी हरी पत्तियों से एकत्र किया जाता है. उच्च एंटीऑक्सिडेंट और दाह-रोधक गुणों से भरपूर होने के कारण जिन्कगो के कई स्वास्थ्य लाभ माने जाता है. यह रक्त प्रवाह को भी बढ़ा सकता है और मस्तिष्क में न्यूरोट्रांसमीटर के संचालन में योगदान दे सकता है.

7) आप अच्छी नींद चाहते हैं = वैलेरियन चाय (Valerian Tea)

वेलेरियन चाय एक हर्बल पेय है जो वेलेरियन पौधे की जड़ों और भूमिगत तनों से बनता है. वेलेरियन का उपयोग आमतौर पर नींद संबंधी विकारों के लिए किया जाता है, विशेष रूप से अनिद्रा और तनाव में राहत राहत पाने के लिए. साथ ही यह महिलाओं को मासिक धर्म के लक्षणों से और यहां तक कि रजोनिवृत्ति के लक्षणों में राहत प्रदान करता है.

8) जठरांत्र संबंधी समस्याओं को शांत करने के लिए = लीकोरिस टी (Licorice Tea)

ग्लाइसीराइज़ा ग्लबरा जिसे आमतौर पर लिकोरिस के रूप में जाना जाता है और हजारों वर्षों से खाद्य पदार्थों और औषधियों को स्वादिष्ट बनाने के लिए उपयोग किया जाता है. इसकी जड़ों में मिठास होती है, प्राचीन काल से ख़ासी का इलाज करने के लिए दुनिया भर में लीकोरिस के जड़ो का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है. इसकी जड़ों में पाए जाने वाला ग्लोब्रीडिन और ग्लोब्रीन युक्त अर्क पेट की परेशानी से राहत दिलाने में प्रभावी होता है.

9) पेट संबन्धी समस्या में = पेपरमिंट टी (Peppermint Tea)

पेपरमिंट (पुदीना) एक सुगंधित पौधा होता है. इसका उपयोग खाद्य पदार्थों, टूथपेस्ट, माउथवॉश और अन्य उत्पादों में स्वाद भरने के लिए किया जाता है और इसके कुछ औषधीय उपयोग भी होते हैं. पेपरमिंट के पत्तों को सूखा कर भी इस्तेमाल किया जा सकता है. पेपरमिंट का उपयोग लंबे समय से पाचन समस्याओं के रूप में जैसे कि पेट की ख़राबी, पेट फूलना और गैस जैसी बिमारिओं में किया जाता है.

10) आप तेजी से कैलोरी बर्न करना चाहते हैं = ओलोंग टी (Oolong Tea)

ओलोंग टी एक पारंपरिक चीनी चाय का प्रकार है. यह कैमेलिया साइनेंसिस नामक पौधे की पत्नियों से बनाई जाती है, यह वही पौधा होता है जिससे ग्रीन टी और ब्लैक टी बनाई जाती है. कई अध्ययनों से पता चला है कि ऊलोंग टी तेजी से चरबी घटाकर वजन घटाने में मदद कर सकती है.

चेतावनी:

किसी भी नई जड़ी बूटी की जानकारी और संभावित दुष्प्रभावों के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से सुझाव ले और सुनिश्चित करें.

अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी करे, हमारे अगले Post प्राप्त करने के लिए हमें करे और हमारा Facebook page करे, अपने सुझाव हमें Comments के माध्यम से दे.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *