स्वामी विवेकानंद का शिकागो भाषण हिंदी में – Swami Vivekananda Chicago Speech in Hindi

स्वामी विवेकानंद का शिकागो भाषण हिंदी में - Swami Vivekananda Chicago Speech in Hindi

शिकागो में स्वामी विवेकानंद द्वारा प्रस्तुत भाषण का हिंदी अनुवाद – Hindi translation of the speech presented by Swami Vivekananda in Chicago.

भारत भूमि के दिव्य पुत्र स्वामी विवेकानंद जी को किसी परिचय की आवश्यकता नहीं है. भारत के सभी युवाओं के लिए स्वामी विवेकानंद के वाणी से निकला एक-एक शब्द अमृत के समान है और उनका प्रत्तेक विचार एक नई प्रेरणा देता है.

स्वामी जी ने अमेरिका के शिकागो शहर में आयोजित “विश्व धर्म सम्मेलन (World Religion Conference)” में 11 सितंबर 1893 को एक बहुत ओजस्वी भाषण (Swami Vivekananda Chicago Speech in Hindi) दिया था.

उन्हें अपने विचार व्यक्त करने के लिए केवल 2 मिनट का समय दिया गया था; लेकिन वे अधिक समय तक धाराप्रवाह बोलते रहे और उनके भाषण की चर्चा पूरी दुनिया में हुई. उनके “विश्व धर्म सम्मेलन” भाषण को आज भी याद किया जाता है.

इस प्रेरक भाषण ने पूरी दुनिया में स्वामी विवेकानंद जी की ख्याति फैला दी थी और पूरे विश्व में हिंदुत्व और भारतीय संस्कृति को परिचित कराया था.

आज की इस पोस्ट में हम शिकागो स्थित धर्म संसद में स्वामी विवेकानंद द्वारा दिया गया प्रेरक भाषण का हिंदी में अनुवादित साझा कर रहे हैं.

स्वामी विवेकानंद का शिकागो भाषण हिंदी में – Swami Vivekananda Chicago Speech in Hindi

अमेरिका के बहनों और भाइयों,

आपने जिस सौहार्दपूर्ण और गर्मजोशी से हमारा स्वागत किया है, उसे देखकर मेरा हृदय अपार हर्ष से भर गया है. 

विश्व की सबसे प्राचीन संत परंपरा की ओर से मैं आपको धन्यवाद देता हूं; मैं सभी धर्मों की जननी के तरफ से आपको धन्यवाद देता हूं और सभी जातियों और पंथों के लाखों-करोड़ों हिंदुओं की ओर से आपका आभार व्यक्त करता हूं.

मैं उन कुछ वक्ताओं को भी धन्यवाद देता हूं जिन्होंने इस मंच से कहा कि दुनिया में सहिष्णुता का विचार सुदूर पूर्व के देशों से फैला है.

मुझे गर्व है की मै एक ऐसे धर्म का अनुयायी हूं जिसने विश्व को सहिष्णुता और सार्वभौमिक स्वीकृति दोनों की शिक्षा दी है. हम न केवल सार्वभौमिक सहिष्णुता में विश्वास करते हैं, बल्कि हम दुनिया के सभी धर्मों को सत्य के रूप में स्वीकार करते हैं.

मुझे उस देश का नागरिक होने पर गर्व है जिसने पृथ्वी के सभी राष्ट्रों और धर्मों के उत्पीड़ितों और सताए हुए लोगों को आश्रय दिया है. मुझे आपको यह बताते हुए गर्व हो रहा है कि हम अपने हृदय में उन इस्राएलियों की पवित्र स्मृतियां संजोए हुए हैं जो दक्षिण भारत में आए थे, जिनके धार्मिक स्थलों को रोमन आक्रमणकारियों ने नष्ट कर दिया था.

मुझे एक ऐसे धर्म से संबंधित होने पर गर्व है जिसने महान पारसी धर्म के लोगों को आश्रय दिया है और अभी भी उनका पालन-पोषण कर रहा है.

भाइयों, मैं आपको एक श्लोक की कुछ पंक्तियां सुनाना चाहता हूं जो मैंने बचपन से याद की हैं और दोहराई हैं और जिसे करोड़ों लोग रोज़ दोहराते हैं:-

“जिस प्रकार विभिन्न स्रोतों से निकली विभिन्न नदियां अंत में समुद्र में जाकर मिल जाती हैं, उसी प्रकार मनुष्य अपनी इच्छा के अनुसार अलग-अलग मार्ग चुनता है. वे देखने में भले ही सीधे हों या टेढ़े-मेढ़े, लेकिन वे सभी ईश्वर की ओर ले जाते हैं.”

वर्तमान सम्मेलन, जो अब तक आयोजित सबसे पवित्र सभाओं में से एक है, अपने आप में गीता में बताए गए अद्भुत सिद्धांतों की दुनिया का एक प्रमाण है:-

“जो कोई भी मेरे पास आता है, चाहे वह किसी भी रूप में हो, मैं उसके पास पहुंच जाता हूं. लोग जो भी रास्ता चुनते हैं, वे अंत में मुझ तक ही पहुंचते हैं.

साम्प्रदायिकता, धर्मांधता और उसकी भयानक संतति हठधर्मिता ने लंबे समय से इस सुन्दर धरती को अपने शिकंजे में जकड़ रखा है. उन्होंने पृथ्वी को हिंसा से भर दिया है; इस धरती को कितनी ही बार रक्त से लाल कर दिया है; कितनी ही सभ्यताओं को नष्ट कर दिया गया है और न जाने कितने देशों को निराशा में भेज दिया है.

यदि ये भयानक दैत्य न होते तो मानव समाज आज की तुलना में कहीं अधिक उन्नत होता. परंतु अब उनका समय समाप्त हो गया है; और मुझे पूरी उम्मीद है कि इस सम्मेलन के सम्मान में आज सुबह जो घंटानाद किया गया था, वह सभी हठधर्मियों, हर तरह के क्लेश, चाहे वे तलवार से हों या कलम से और सभी लोगों के बीच की दुर्भावनाओं को नष्ट कर देगा.

समाप्त

हम आशा करते हैं कि आपको हमारे द्वारा प्रस्तुत स्वामी विवेकानंद का यह शिकागो भाषण (Swami Vivekananda Chicago Speech in Hindi) पसंद आया होगा. हिंदी में प्रस्तुत इस भाषण को आगे जरूर शेयर करें और स्वामी विवेकानंद का यह शिकागो भाषण आपको कैसा लगा, हमें कमेंट में जरूर बताएं.

——————————————//

अन्य लेख पढ़ें:

अगर आपको Swami Vivekananda Chicago Speech in Hindi यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी करे, हमारे अगले Post प्राप्त करने के लिए हमें करे और हमारा Facebook page करे, अपने सुझाव हमें Comments के माध्यम से दे.