नोबेल पुरस्कार: सामान्य जानकारी (Nobel Prize: General Information)

Nobel Prize: General Information

नोबेल पुरस्कार स्वीडन और नॉर्वे के नोबेल फ़ाउंडेशन द्वारा स्वीडन के वैज्ञानिक अल्फ्रेड नोबेल की याद में वर्ष 1901 में शुरू किया गया शैक्षिक, सांस्कृतिक या वैज्ञानिक क्षेत्रों के कई श्रेणियों में सर्वश्रेष्ठ योगदान के लिए प्रदान किया जाने वाला अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कारों का एक समूह है. स्वीडिश रसायनज्ञ, इंजीनियर और उद्योगपति अल्फ्रेड नोबेल की वसीहत के अनुसार 1895 में पांच नोबेल पुरस्कार प्रमाणित किए गए. 1901 में पहली बार रसायन शास्त्र (Chemistry), साहित्य (Literature), शांति (Peace), भौतिक शास्त्र (Physics) और भौतिकी या चिकित्सा शास्त्र (Physiology or Medicine) के लिए पुरस्कार प्रदान किये गए. नोबेल पुरस्कारों को उनके संबंधित क्षेत्रों में उपलब्ध सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कारों के रूप में माना जाता है.

अल्फ्रेड नोबेल एक बेहतर दुनिया की भावना और उम्मीद रखते थे. उनका मानना ​​था कि लोग ज्ञान, विज्ञान और मानवतावाद के माध्यम से समाज को बेहतर बनाने में सक्षम हैं. यही कारण है कि उन्होंने मानव जाति को बड़ा योगदान देने वाले आविष्कारों को पुरस्कृत करने के लिए एक पुरस्कार की शुरुआत की जिसे हम “नोबेल पुरस्कार” के नाम से जानते है. वर्ष 1901 से, भौतिक शास्त्र (physics), रसायन शास्त्र (chemistry), शरीर विज्ञान या चिकित्सा (physiology or medicine), साहित्य (literature) और शांति (peace) के क्षेत्र में अविश्वसनीय योगदान देने वाले व्यक्तिओं को नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया है, जबकि 1968 से अर्थशास्त्र (economic) के लिए भी नोबेल पुरस्कार प्रदान किया जाता है.

नोबेल पुरस्कार प्राप्तकर्ता को स्वर्ण पदक, प्रशस्ति-पत्र और नोबेल फ़ाउंडेशन द्वारा निश्चित राशि (लगभग 14 लाख डॉलर) प्रदान की जाती है.

1980 से पहले तक, नोबेल पुरस्कार पदक 23-कैरेट ठोस सोने के बने होते थे, और 1980 के बाद से वे 18-कैरेट इलेक्ट्रोम से बने हैं जिसे 24-कैरेट सोने के साथ चढ़ाया गया है. नोबेल पुरस्कार पदक बनाने के लिए उपयोग किए जाने वाले सोने की वास्तविक मात्रा प्रत्येक वर्ष सोने की कीमतों के आधार पर थोड़ी भिन्न होती है. औसतन, पदक का वजन लगभग 175 ग्राम होता है. 

अल्फ्रेड नोबेल (Alfred Noble)

अल्फ्रेड नोबेल का जन्म 21 अक्टूबर 1833 को स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोल्म में एक समृद्ध परिवार में हुआ था. वह एक स्वीडिश व्यवसायी, रसायनज्ञ, इंजीनियर, आविष्कारक और परोपकारी व्यक्ति थे. अल्फ्रेड नोबेल ने कुल 355 आविष्कार किए जिनमें 1867 में किया गया डायनामाइट का आविष्कार भी शामिल था. नोबेल को डायनामाइट तथा इस तरह के विज्ञान के अनेक आविष्कारों की विध्वंसक शक्ति की बखूबी समझ थी. साथ ही विकास के लिए निरंतर नए अनुसंधान की जरूरत का भी भरपूर अहसास था. उन्होंने दिसंबर 1896 में मृत्यु के पूर्व अपनी विपुल संपत्ति का एक बड़ा हिस्सा एक ट्रस्ट के लिए सुरक्षित रख दिया. उनकी इच्छा थी कि इस पैसे के ब्याज से हर साल उन लोगों को सम्मानित किया जाए जिनका काम मानव जाति के लिए सबसे कल्याणकारी पाया जाए. स्वीडिश बैंक में जमा इसी राशि के ब्याज से नोबेल फ़ाउंडेशन द्वारा हर वर्ष शांति, साहित्य, भौतिकी, रसायन, चिकित्सा विज्ञान और अर्थशास्त्र में सर्वोत्कृष्ट योगदान के लिए नोबेल पुरस्कार दिया जाता है.

नोबेल पुरस्कार संस्था (Nobel Prize Organization)

नोबेल पुरस्कार की नींव अल्फ्रेड नोबेल के अंतिम वसीयत के तौर पर 1895 में रखी गई थी. अल्फ्रेड नोबेल ने अपनी  संपत्ति का एक बड़ा हिस्सा पुरस्कार की स्थापना के लिए बहाल किया और नोबेल फ़ाउंडेशन को प्रबंधन करने के लिए स्थापित किया गया और अल्फ्रेड नोबेल की अंतिम इच्छा को पूरा करने की ज़िम्मेदारी सोपि गयी. अल्फ्रेड नोबेल के अंतिम इच्छा के निर्देश के अनुसार नोबेल संस्था ने आजतक प्रत्येक पुरस्कार श्रेणी में नोबेल पुरस्कार विजेताओं का चयन किया है.

नोबेल फाउंडेशन (The Nobel Foundation)

30 दिसंबर 1896 को स्टॉकहोम में अल्फ्रेड नोबेल की आख़िरी इच्छा पढ़ी गई और वसीयतनामा के अनुसार, अल्फ्रेड नोबेल द्वारा स्थापित संस्था मानवता की सेवा करने वालों को पुरस्कृत करने के लिए गठित करने की बात की गयी. नोबेल फ़ाउंडेशन की स्थापना 29 जून 1900 को एक निजी संस्था के रूप में की गई थी, जो अल्फ्रेड नोबेल की वसीहत में बताये इरादों को पूरा करने के लिए कार्य करती है. नोबेल फ़ाउंडेशन का मुख्य कार्य अल्फ्रेड नोबेल की सम्पत्ति को प्रबंधित करना है जो दीर्घकालिक रूप से नोबेल पुरस्कार के लिए एक सुरक्षित वित्तीय स्थिति में सुनिश्चित की गयी है. यह संस्था नोबेल पुरस्कार विजेताओं के चयन की प्रक्रिया में शामिल नहीं होती है. कई मायनों में, नोबेल संस्था किसी निवेश कंपनी के समान है, जिसमें यह पुरस्कार और प्रशासनिक गतिविधियों के लिए पूँजी बनाने के लिए नोबेल के पैसे का निवेश करती है.

नोबेल पुरस्कार अल्फ्रेड नोबेल के व्यक्तिगत सम्पत्ति से उपलब्ध निधि से प्रायोजित किया गया था. आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, अल्फ्रेड नोबेल ने उनके वसीयत में से सम्पत्ति का 94% हिस्सा नोबेल फ़ाउंडेशन को अर्पित किया था, जो अब नोबेल पुरस्कार का आर्थिक आधार है.

यह संस्था पुरस्कार-विजेता और संस्थानों के सामान्य हितों की रक्षा करने और समग्र रूप से नोबेल संगठन का प्रतिनिधित्व करने का भी प्रयास करती है. पिछले दो दशकों में नोबेल फ़ाउंडेशन द्वारा नोबेल पुरस्कार के बारे में ज्ञान के प्रेरक और प्रसार के उद्देश्य का विकास किया गया है.

नोबेल फ़ाउंडेशन के नियमानुसार किसी एक पुरस्कार की राशि को एक ही क्षेत्र के दो कार्यों के बीच समान रूप से विभाजित किया जा सकता है, जिनमें से प्रत्येक कार्य को पुरस्कार के लिए ग्राह्य माना जाता है. यदि दो या तीन व्यक्तियों द्वारा निर्मित कार्य पुरस्कृत किया गया है, तो पुरस्कार उन्हें संयुक्त रूप से प्रदान किया जाता है. किसी भी मामले में एक पुरस्कार की राशि को तीन से अधिक व्यक्तियों के बीच विभाजित नहीं किया जा सकता है.

नोबेल पुरस्कार मरणोपरांत नहीं दिया जाता है; हालाँकि, यदि किसी व्यक्ति को पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है और उसे प्राप्त करने से पहले व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है, तो मरणोपरांत पुरस्कार प्रस्तुत किया जा सकता है. एक पुरस्कार को तीन से अधिक व्यक्तियों के बीच साझा नहीं किया जा सकता है, हालांकि तीन से अधिक लोगों के संगठनों को नोबेल शांति पुरस्कार प्रदान किया जा सकता है.

पुरस्कार प्रक्रिया (Award process)

सभी विभिन्न नोबेल पुरस्कारों के लिए एक समान पुरस्कार प्रक्रिया होती है.

नामांकन प्रक्रिया (Nominations Process)

नोबेल समिति द्वारा हर साल आमतौर पर सितंबर महीने में लगभग 3,000 व्यक्तियों को नामांकन फॉर्म भेजे जाते हैं. नामांकन फॉर्म जमा करने की अंतिम तिथि पुरस्कार वितरण के वर्ष की 31 जनवरी तक तय होती है. नोबेल समिति इन प्राप्त आवेदनों और अतिरिक्त नामों से लगभग 300 संभावित पुरस्कार विजेताओं को नामाँकित करती है. नामाँकित व्यक्तियों को सार्वजनिक रूप से उजागर नहीं किया जाता है, और न ही उन्हें इस बात की कल्पना दी जाती है कि उन्हें पुरस्कार के लिए नामाँकित किया जा रहा है.

चुनाव प्रक्रिया (Selection Process)

नोबेल समिति संबंधित क्षेत्रों के विशेषज्ञों की सलाह को दर्शाती एक रिपोर्ट तैयार करती है. यह रिपोर्ट, प्रारंभिक उम्मीदवारों की सूची के साथ, पुरस्कार प्रदान करने वाले संस्थाओं को पेश कि जाती है. यह संस्थाएं बहुसंख्यक मतों के आधार पर प्रत्येक क्षेत्र के पुरस्कार विजेता का चयन करती है. मतदान के तुरंत बाद पुरस्कार विजेता की घोषणा की जाती है, जो की संस्थाओं का अंतिम निर्णय होता है और इस निर्णय पर पुनर्विचार नहीं किया जा सकता है. प्रत्येक पुरस्कार में अधिकतम तीन पुरस्कार विजेता और दो अलग-अलग कार्य चुने जा सकते हैं. शांति पुरस्कार को छोड़कर (जो की किसी संस्था को भी प्रदान किया जा सकता है) बाकी सभी पुरस्कार केवल किसी विशेष व्यक्ति को ही प्रदान किये जा सकते है. 

पुरस्कार समारोह (Award ceremonies)
नोबल शांति पुरस्कार को छोड़कर बाकी सभी पुरस्कारों का वितरण अल्फ्रेड नोबेल की पुण्यतिथि के दिन यानी 10 दिसंबर को वार्षिक पुरस्कार समारोह पर स्वीडन के स्टॉकहोम शहर में आयोजित किया जाता है. आमतौर पर 10 दिसंबर को ही नॉर्वे के ओस्लो शहर में वार्षिक पुरस्कार समारोह पर शांति पुरस्कार प्रदान किया जाता.

अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी करे, हमारे अगले Post प्राप्त करने के लिए हमें करे और हमारा Facebook page करे, अपने सुझाव हमें Comments के माध्यम से दे.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *