भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के 40 अनमोल विचार और कथन – Bharat Ratna Atal Bihari Vajpayee 40 Quotes and Thoughts in Hindi

Bharat Ratna Atal Bihari Vajpayee Quotes and Thoughts in Hindi - भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के अनमोल विचार और कथन

अटल बिहारी वाजपेयी हिंदुत्ववादी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक सम्माननीय और प्रतिष्ठित नेता थे और उन्होंने भारत के प्रधानमंत्री के रूप में तीन बार कार्यकाल संभाला था. उनके नेतृत्व में भारत ने लगातार आर्थिक विकास प्राप्त किया, और देश सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र में एक विश्व नेता बन गया. दिसंबर 2014 में अटल बिहारी वाजपेयी को भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ से सम्मानित किया गया था.

Bharat Ratna Atal Bihari Vajpayee Quotes and Thoughts in Hindi – भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के अनमोल विचार और कथन

1. भारत एक प्राचीन राष्ट्र है. अगस्त को कोई नया राष्ट्र नहीं पैदा हुआ, इस प्राचीन राष्ट्र को स्वतंत्रता मिली.

2. वास्तविकता यह है कि संयुक्त राष्ट्र जैसे अंतर्राष्ट्रीय संगठन केवल उतने ही प्रभावी हो सकते हैं जितना कि इसके सदस्य अनुमति देते हैं.

3. शीत युद्ध के बाद, अब एक गलत धारणा बन गई है कि संयुक्त राष्ट्र किसी भी समस्या को कहीं भी हल कर सकता है.

4. हमारे परमाणु हथियार शुद्ध रूप से किसी भी विरोधी के परमाणु हमले को खत्म करने के लिए हैं.

5. हम आशा करते हैं कि दुनिया प्रबुद्ध (परिष्कृत) स्वार्थ की भावना से काम करेगी.

6. आप दोस्त बदल सकते हैं लेकिन पड़ोसी नहीं.

7. अमावस के अभेद्य अंधकार का अंतःकरण पूर्णिमा की उज्ज्वलता को याद करके कांप उठता है.

8. जीवन के फूल को पूर्ण ताकत से खिलने दे.

9. इस बात से कोई इनकार नहीं कर सकता कि देश मूल्यों के संकट में फंसा है.

10. आज इतिहास में हुई किसी गलती का बदला लेने का समय नहीं है, बल्कि उस गलती को सुधारने का सवाल है.

श्री नरेंद्र मोदी जी के अनमोल विचार और कथन – Shri Narendra Modi Ji Quotes and Thoughts in Hindi

11. हमें अपने जीवन की यात्रा को कंधे से कंधा मिलाकर, कदम से कदम मिलाकर ध्येय-सिद्धि के शिखर तक ले जाना है. भविष्य का भारत हमारे प्रयासों और कड़ी मेहनत पर निर्भर करता है. हमें अपने कर्तव्यों का पालन करना चाहिए, हमारी सफलता सुनिश्चित है.

12. शहीदों का रक्त अभी गीला है और चिता की राख में चिंगारियां बाकी हैं. उजड़े हुए सुहाग और जंजीरों में जकड़ी हुई जवानियां उन सर्वोत्तम कार्यों की गवाह हैं.

13. देश एक मंदिर है, हम पुजारी हैं. हमें अपने आप को राष्ट्र देव की पूजा के लिए समर्पित करना चाहिए.

14. हम अहिंसा में विश्वास करते हैं और शांति और समझौते के रास्ते से दुनिया के संघर्षों को हल करना चाहते हैं.

15. उस व्यक्ति में अहिंसा की भावना है जिसकी अंतरात्मा सत्य में विराजमान होती है, जो सभी को एक दृष्टि से देखती है.

16. हिंदू धर्म और संस्कृति की एक प्रमुख विशेषता समय के साथ बदलने की क्षमता है.

17. हिंदू धर्म के प्रति मेरे आकर्षण का मुख्य कारण यह है कि यह मानवता का सबसे अच्छा धर्म है.

18. हिंदू धर्म एक ऐसा जीवित धर्म है, जो धार्मिक अनुभवों की वृद्धि और अपने आचरण की चेतना के साथ निरंतर विकसित होता रहता है.

19. हिंदू धर्म के अनुसार, जीवन की न तो शुरुआत होती है और न ही अंत. यह एक अनंत चक्र है.

20. हमें हिंदू कहलाने में गर्व होना चाहिए, परंतु हम भारतीय होने पर भी गर्व महसूस करें.

शिव खेड़ा के 50 अनमोल विचार और कथन – Shiv Khera 50 Quotes and Thoughts in Hindi

21. भारतीय संस्कृति कभी भी किसी एक उपासना पद्धति से बंधी नहीं रही है और इसका आधार क्षेत्रीय भी नहीं है.

22. पुजा की आजादी, आस्था और विश्वास की स्वतंत्रता भारतीय संस्कृति की परंपरा रही है.

23. मानव जीवन एक अनमोल खजाना है, पुण्य का प्रसाद है. हमें न केवल अपने लिए, बल्कि दूसरों के लिए भी जीना चाहिए. जीवन जीना एक कला है, एक विज्ञान है. दोनों का समन्वय आवश्यक है.

24. मैं अपनी सीमाओं से परिचित हूं. मुझे अपनी कमियों का एहसास है. समरसता की कोई कमी नहीं है. यह देश बहुत अद्भुत है, बड़ा अनोखा है. किसी भी पत्थर को सिंदूर लगाकर अभिवादन किया जा सकता है.

25. भगवान जो भी करता है, अच्छे के लिए करता है.

26. भगवान केवल एक है, लेकिन इसे प्राप्त करने के कई तरीके हैं.

27. जीवन को टुकड़ों में विभाजित नहीं किया जा सकता है, इसका ‘पूर्णता’ में ही विचार किया जाना चाहिए.

28. साहित्यकार का हृदय दया, क्षमा, करुणा और प्रेम से भर जाता है. इसलिए वह खून की होली नहीं खेल सकता.

29. शिक्षा आज एक व्यवसाय बन गया है. ऐसी स्थिति में जीवन की गुणवत्ता कहां होगी? उपनिषदों या अन्य प्राचीन ग्रंथों पर हमारा ध्यान नहीं गया है. आज स्कूलों में छात्र थोक में आते हैं.

30. मैं शिक्षकों का सम्मान करने में गर्व महसूस करता हूं. शिक्षकों को सरकार द्वारा प्रोत्साहित किया जाना चाहिए. प्राचीन काल में, शिक्षक का बहुत सम्मान किया जाता था. आज शिक्षक कुचला जा रहा है.

रॉबिन शर्मा के 35 अनमोल विचार और कथन – Robin Sharma 35 Quotes and Thoughts in Hindi

31. अशिक्षा और गरीबी का आपस में गहरा संबंध है. 

32. शिक्षा का माध्यम मातृभाषा होना चाहिए. मातृभाषा के माध्यम से उच्च शिक्षा प्रदान की जानी चाहिए.

33. शिक्षा मोटे तौर पर रोजगार या व्यवसाय से संबंधित होनी चाहिए. उसे राष्ट्रीय चरित्र के निर्माण और व्यक्ति को खुश करने में सहायक होना चाहिए.

34. राष्ट्र की सच्ची एकता तब पैदा होगी जब भारतीय भाषाएं अपना स्थान ग्रहण करेंगी.

35. भारत के लोगों ने जिस संविधान को आत्मसमर्पण कर दिया है, उसे विकृत करने का अधिकार किसी को नहीं दिया जा सकता.

36. लोकतंत्र एक बहुत ही नाजुक पौधा है. लोकतंत्र को धीरे-धीरे विकसित करना होगा. केंद्र को सबको साथ लेकर चलने की भावना के साथ आगे बढ़ना होगा.

37. हमें अपनी स्वतंत्रता को अमर बनाना होगा, राष्ट्रीय अखंडता को अक्षुण्ण रखना होगा और दुनिया में स्वाभिमान और सम्मान के साथ रहना होगा.

38. समाज के हर वर्ग तक जातिवाद का जहर पहुंच रहा है. यह स्थिति सभी के लिए चिंताजनक है. हम सामाजिक समानता और सामाजिक समरसता भी चाहते हैं.

39. किसी भी देश को खुले तौर पर आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक गठबंधन के साथ साझेदारी, मदद, आतंकवाद फैलाने और प्रायोजित करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए.

40. आपसी सहयोग और त्याग की प्रवृत्ति पर बल देकर ही मानव समाज प्रगति और समृद्धि का पूरा लाभ उठा सकता है.

सरदार वल्लभ भाई पटेल के अनमोल विचार और कथन – Sardar Vallabhbhai Patel Quotes and Thoughts in Hindi

अब्राहम लिंकन के अनमोल विचार और कथन – Abraham Lincoln Quotes and Thoughts in Hindi

अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी करे, हमारे अगले Post प्राप्त करने के लिए हमें करे और हमारा Facebook page करे, अपने सुझाव हमें Comments के माध्यम से दे.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *