हंसी के बारे में 30 मनोरंजक तथ्य – 30 Amusing Facts About Laughing

30 Amusing Facts About Laughing - हंसी के बारे में 30 मनोरंजक तथ्य

मुस्कुराहट कुछ और नहीं बल्कि आपके मुंह की सक्रिय हलचल होती है जो खुशी को प्रकट करती है. मुस्कुराना क्यों महत्वपूर्ण है? मुस्कुराने से न केवल मनःस्थिति को प्रोत्साहन मिलता है बल्कि हमारे शरीर को कोर्टिसोल और एंडोर्फिन हार्मोन निवारण में मदद मिलती है जो रक्तचाप कम करने सहित कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करते हैं. हंसी एक बेहतरीन दवा है और हंसी के कुछ मनोरंजक तथ्य भी है. 

30 Amusing Facts About Laughing – हंसी के बारे में 30 मनोरंजक तथ्य

1. मनुष्य हंसने की क्षमता के साथ ही पैदा होता है. “हा-हा”,  “हो-हो”,  या “ही-ही” यह सभी उच्चारण सार्वभौमिक मानव परिभाषा का हिस्सा है, और सभी मानव संस्कृतियां उन्हें पहचानती है.

2. जिस उम्र में हम सबसे ज्यादा हंसते हैं वह आम तौर पर 5 वा और 6 वा साल है.

3. शोधकर्ताओं के अनुसार मनुष्य अक्सर कुछ बोलने से पहले हंसते है.

4. जानकर आश्चर्य होगा की बंदर और चूहे भी हंसते हैं.

5. शोध से पता चलता है कि जो जोड़े (Couple) एक साथ हंसते हैं, उनके बीच लंबे समय तक दृढ़ संबंध बने होने की संभावना अधिक होती है.

6. हंसी सांसर्गिक क्रिया है. हमारा मस्तिष्क बस लोगों को हंसते देख चेहरे की मांसपेशियों को सक्रिय कर देता है. 

7. दिन में सिर्फ 10-15 मिनट हंसने से 40 कैलोरी तक बर्न हो सकती है.

8. हंसी, बोलने वाला और सुनने वाला दोनों के दिमाग को सिंक्रनाइज़ करती है ताकि वे भावनात्मक रूप से जुड़ जाएं.

9. ‘गेलोटोफोबिया’ हंसी और सामाजिक भय का एक प्रकार है. लगभग 13% आबादी ‘गेलोटोफोबिया’ से पीड़ित है.

10. शोध से पता चलता है कि जो लोग निषेधात्मक चुटकुलों (Dark Humor Jokes) पर हंसते हैं उनके पास अधिक IQ होता है.

WhatsApp के बारे में 20 रोचक तथ्य – 20 Interesting facts about WhatsApp

11. ‘जिलेटोलॉजी’, मनोवैज्ञानिक और शारीरिक दृष्टिकोण से हंसी और शरीर पर इसके प्रभावों का एक अध्ययन विषय है.

12. आप खुद को गुदगुदी करके खुद को हंसा नहीं सकते है. आपका मस्तिष्क पहले ही शरीर को पूर्व-सूचना दे देता है कि गुदगुदी होने वाली है, इसलिए खुद को आश्चर्यचकित करना असंभव है.

13. हंसी-मजाक करना हंसने का मुख्य कारण नहीं है, बल्कि किसी अन्य व्यक्ति के साथ बातचीत करना है.

14. यहां तक कि खुद को मुस्कुराने या हंसने पर मजबूर करने से भी आपका मूड बेहतर हो सकता है.

15. किसी को हंसाने का कोई फार्मूला नहीं है. शोधकर्ता आम तौर पर व्याख्या करते हैं कि जो चीज हमें हंसाती है, वह तब होती है जब हम किसी एक चीज की उम्मीद करते हैं और फिर वह उम्मीद जल्दी से उसके मस्तिष्क में आ जाती है.

16. हंसी से मरने की संभावना दुर्लभ है. बहुत अधिक हंसने से मस्तिष्क धमनीविस्फार, अस्थमा का दौरा, जेलस्टिक दौरे या श्वासावरोध हो सकता है.

17. महिलाओं को आम तौर पर उन पुरुषों में ज्यादा दिलचस्पी होती है जो उन्हें हंसाते हैं, और पुरुषों को उन महिलाओं में दिलचस्पी होती है जो उनके चुटकुलों पर हंसती है.

18. पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए व्यक्तिगत विज्ञापन शिक्षा, बुद्धिमत्ता या व्यवसाय की तुलना में अधिक बार हास्य का हवाला देते हैं.

19. जब बच्चे 3 से 5 महीने के हो जाते हैं तब बच्चे आमतौर पर हंसने लगते हैं.

20. प्लेटो (एक प्राचीन यूनानी दार्शनिक) ने सोचा था कि अनुशासनहीन हंसी राज्य को खतरे में डाल सकती है.

क्या आप मानव शरीर के बारे में ये आश्चर्यजनक तथ्य जानते हैं? (Do You Know These Amazing Facts About the Human Body?)

21. अंधे और बहरे पैदा हुए बच्चे भी हंसने में सक्षम होते हैं.

22. हंसी हृदय स्वास्थ्य में सुधार करती है और रक्त प्रवाह बढ़ाने में फायदेमंद होती है.

23. बहुत अधिक हंसने से शरीर का अकस्मात निर्जीव-सा हो जाना या अचानक और अनियंत्रित रूप से मांसपेशियों की कमजोरी हो सकती है.

24. हंसी योगाभ्यास का ही एक प्रकार है जिसमे हंसना, गहरी सांस लेना और चंचल अभ्यासों का मिश्रण है.

25. घबराहट वाली हंसी, जैसे की शिष्टाचार में हंसना, एक प्रकार की सचेत हंसी होती है जो संभावित रूप से चिंताजनक स्थिति को और अधिक तेज़ी से आगे बढ़ाने की कोशिश करती है. 

26. ‘Agelast’ वह व्यक्ति कहलाता जो शायद ही कभी या कभी भी हंसता नहीं है.

27. हंसी लोगों को एकत्रित कर एक साथ ला सकती है. इसे किसी को अपमानित करने और नीचा दिखाने के लिए एक हथियार के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है.

28. हंसी, जैसे की घबराहट वाली हंसी, अक्सर चिंता या भय के खिलाफ एक रक्षा तंत्र के रूप में उपयोग की जाती है.

29. हंसने से प्रतिरोधक क्षमता (इम्यूनिटी) बढ़ती है.

30. हंसी दर्द को कम करती है, रक्त शर्करा के स्तर को कम करती है, मधुमेह और गैर मधुमेह रोगियों में ग्लूकोज के सहनशीलता को बढ़ाती है, कर्मचारियों की नौकरी के प्रदर्शन में सुधार करती है व उत्साह बढ़ाती है, और लोगों को एक साथ लाती है.

सोने के बारे में 30 रोचक तथ्य (30 Interesting Facts About Gold)

अधिकांश कीमतें 9 या 99 या 999 रुपये में क्यों तय किए जाते हैं? – Why are most prices fixed at Rs.9 or 99 or 999?

अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी करे, हमारे अगले Post प्राप्त करने के लिए हमें करे और हमारा Facebook page करे, अपने सुझाव हमें Comments के माध्यम से दे.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *